“वंस आ फ़ैन ऑल्वेज़ आ फ़ैन” -Confessions of a FAN

हमारे सोनू भाई तो अब ईद तक खुश रहेंगे। सलमान भाई के इंतज़ार में। इसी बीच लगे हाथों हमने उनसे शाहरुख खान के बारे में भी पूछ लिया। हमने सोचा खुश हैं तो इसी बहाने इस बारे में भी इनकी अतुल्य राय ले ली जाये।

हमने पूछा, “का सोनू भाई का लगता है फ़ैन चलेगा की नहीं?”

सोनू भाई पहले तो मज़ाक के मूड में दिखे और कहा, “बहुत गर्मी है भईया और बिजली का हालत तो आप देख ही रहे हैं। न बिजली रहता है न फ़ैन चलता है।“

हमने कहा, “अरे आप मज़ाक मत करिए शाहरुख खान वाला फ़ैन पूछ रहे हैं? चलेगा की नहीं परसों आ रहा है?”

इस पर पता नहीं क्यों सोनू भाई इमोसनल हो गए। काम छोड़ के बैठ गए मेरे पास और चिल्ला के कहा, “ए छोटू दो गो चाय लाओ भईया को इंपोर्टेंट बात समझाना है।”

21srk21

फिर चाय की एक चुस्की ली और शुरू हुए, “भईया सच बताएं दिल से बोल रहे हैं भगवान गवाह है। हम सलमान और शाहरुख को एक बराबर मानते थे। बराबरे लाइक करते थे। कभी खुशी कभी ग़म तक का बात बता रहे हैं आपको, ऐसा कोई शाहरुख का सिनेमा नहीं होगा की जान पर खेल कर फ़र्स्ट डे फ़र्स्ट शो का टिकिट नहीं लिए हों। लाठी चलता रहता था लेकिन हम टिकट का लाइन नहीं छोडते थे। केतना बार लाठी खाये भी हैं। एक बात बताइये आप, जब लड़का नया नया जवान होता है तब गाना गाना पड़ता है न उसको। पड़ता है की नहीं? प्यार मोहब्बत वाला गाना गाया नहीं, सुना नहीं तो घंटे का जवान। और गाना किसका गाता था? खाली शाहरुख खान का। और कोई था का मार्केट में? मोहब्बतें देख के भईया बिना फ्रेम वाला चश्मा खरीदे थे और कंधा पर स्वेटर डालके घूमते थे गरमियो में। कभी खुशी कभी ग़म देखे थे तो सच बताएं बच्चन साहब पर भी गुस्सा आ गया था जब उसको घर से निकाला था। दिल तो पागल है देखने के लिए भईया हम रांची से पटना चले गए थे कहे की वहाँ डॉल्बी डिजिटल साउंड लगा हुआ था रीजेंट सिनेमा हाल में। का का नहीं किए हैं हम भईया ई शाहरुखवा के लिए। अपुन बोला तू मेरी लैला गा गा के केतना बार फंसे थे, पब्लिक पिटाई हो जाता मेरा। आपको याद होगा भईया परदेस में गाना था “हो गया है तुझे प्यार”, गानवा में एगो लाइन था “ये संगम हो जाये सागर से मिल जाये, गंगा सागर से मिल जाये गंगा”, अरे भईया ई लाइन पर सीटी मार मार के चिल्ला चिल्ला के एक महिना तक गला में दर्द हो गया था। तौलिया बांध के घूमते थे गरम तब जाके ठीक हुआ था।“

Rayakan-Ulang-Tahun-Sang-Istri-Shahrukh-Khan-Berikan-Kado-Istimewa-Apa-Ya

इतना बोल के सोनू भाई चुप हो गए। माहौल में उदासी छा गयी थी। हमने सोचा की इसके लिए तो नहीं जिक्र किया था शाहरुख खान का की सोनू भाई उदास हो जाएँ। माहौल हल्का करने के लिए पूछा, “तो अब का हो गया भाई? अब भी तो सहिए है। का गलती किया? अभी भी एक से एक गाना बनाता ही है प्यार मोहब्बत रहता ही है उसके सिनेमा में अब का हो गया बताइएगा?”

सोनू भाई भड़क गए। उत्तेजित होकर बोले, “अब का हो गया? पूछ रहे हैं अब का हो गया। बाल का रंग देखे हैं उसका? इतना सस्ता और घटिया रंग गैरेज वाला अंसारी भी नहीं लगाता है। पता नहीं किस्से रंगवाता है? उससे बढ़िया रंग त ई ब्रिज के नीचे वाला बबलू लगा देता है। पता नहीं चलता उसको चलो मान लिए, उसकी बीवियो को नहीं पता चलता का? शक्ति कपूर और शाहरुख खान का बाल का रंग एकके जैसा है डिटटो। शक्ति कपूर तो इधर उधर छिछोरई कर के काम चला लेता है, ई भी अब छिछोरई करेंगे का? मतलब बता देते हैं हम आपको मेरा एक दम पारा हाई हो जाता है देख के उसको। और बाल त बाल ई दाढ़ी रखने कौन बोला उसको और सर पर पट्टा बांधने? उसको अपना समझ नहीं है की कैसा चिप लगता है।“

सोनू भाई थोड़े शांत होके फिर बोले, “जानते हैं ई अमिताभ बच्चन बनने में न भीतरानपुर चले गए। उसके जैसा आवाज़ करना था इनको, भारी तो अब हो गया है। भारी सुन के लगता है कोई दो गो पत्थर घिस रहा है। पहले कितना अच्छा था मासूम जैसा अब सुन लीजिये इनको। कहा गया लव स्टोरी बनाने को तो इनको चूल्हा हो गया सब काम करने का। अरे भाई चुप चाप जो काम आता है करते रहना चाहिए। देखिये भाई को। उसको पता लग गया की अब खाली नौटंकी करेंगे तो बिकेगा तो अब खाली नौटंकी करते हैं एक्टिंग नहीं करते। जानते हैं यश चोपड़ा मरा न तो हमको खाली शाहरुख्वे के लिए दुख हुआ। अब ई बेचारा का करेगा जो एक दो गो बढ़िया सिनेमा उ देते थे कर लेता था। अब वही सब बचा फराह खान और रोहित शेट्टी वही सब मसखरा वाला काम करवाएगा इनसे। ई भी बहुत खुश हैं मसखरी कर के। अपना सपना भूल गए। एक्टिंग करने आए थे की मसखरी। देखे हैं आप हॅप्पी न्यू इयर और दिलवाले? ऐसा फिल्म में हम न हीरो बनें। लेकिन ई बाल लाल रंग से रंग के दाढ़ी बढ़ा के चिरकुट जैसा पट्टा बांध लिए और तैयार हो गए सब करने को।”

SRK-kept-it-stylish-with-a-similar-banda030214164450892_480x600

अब ज्यादा हो रहा था ये सोचकर हमने टोका, “रहने दीजिये वो सब ये बताइये फ़ैन तो नहीं देखेंगे न अब तो आप। तो चलिये रामनवमी के जुलूस में हमारे साथ।“

सोनू भाई मुस्कुरा दिये और धीरे धीरे कहा, “क्या भईया बुराई कर रहे हैं मतलब फ़ैन नहीं रहे हम ऐसा थोड़े ही है। “वंस आ फ़ैन ऑल्वेज़ आ फ़ैन” अपना येही उसूल है। अपना समझ के न बोल रहे थे। फ़ैन देखने त जरूर जाएंगे। भले वापस आके आधा घंटा और गाली दें लेकिन जाएंगे जरूर। अरे शाहरुख खान का फिल्म और सोनू भाई न जाएँ तो टिकिट नहीं कटेगा शो नहीं चलेगा। समझे आप?”

हमने ठंडी सांस छोड़ के कहा, “हाँ समझ गए, आप लोग फ़ैन हैं भाई। लेकिन ये क्या बात है आप शाहरुख सलमान दोनों के फ़ैन हैं?”

सोनू भाई दार्शनिक अंदाज़ में बोले, “ज्यादा दिमाग मत लगाइए भईया दोनों एकके है। थोड़ा ऊपर नीचे होता रहता है मगर दोनों एकके है।

हम भी सोचे जिस दिन रईस और सुल्तान एक साथ आएगा उस दिन बात करेंगे इनसे। बहुत उछल रहे हैं आज फ़ैन रिलीज़ हो रहा है तो दोनों एकके हो गए।

 

Comments