सुल्तान की आँधी!!!घबरा गए रईस!!!

सोनू भाई रविवार की सुबह खाली बैठे चाय पी रहे थे। हमने सोचा आज मौका मिला है इनको लपेटने का। अभी कुछ दिनों पहले फ़ैन के रिलिज़ पर बहुत ज्ञान बाँट रहे थे। तो आज हमने उनको पकड़ लिया।

“क्या सोनू भाई बहुत रिलैक्स लग रहे हैं। रईस का डेट आगे बढ़ा दिया इसलिए का? या फ़ैन डूब गया इसलिए? आपका तो डर से हालत खराब था की क्या होगा आपके शाहरुख खान का। क्या हुआ? हो गया न फैसला कौन है किंग?”

सोनू भाई दार्शनिक अंदाज़ में बोलना शुरू किए, “भईया देखिये बात क्लियर कर दें। यहाँ चौक पर सबको पता है की कौन है शाहरुख़ वाला और कौन है सलमान वाला। कहिए तो पुछवा दें अभी। हम आपको कई बार कह चुके हैं की बच्चन साहब के बाद किसी को माने हैं तो सलमान भाई को। उ तो कभी कभी बीच बीच में जब लईका थे तब आदमी प्यार मोहब्बत के चक्कर में फँस जाता था, तब शाहरुखवा का गाना सुनने लगता था और का। सलमान भाई का अलग पोजीसन है हमारे जीवन में। मक़सूद के जिम में हर महीने 500 खर्चा कर रहे हैं की सुल्तान देखने लायक बन जाएँ कम से कम। और आप सुबह सुबह खाली हैं त हमारा लेने आ गए?”

sultan vs raees1

सोनू भाई डिफ़ेंसिव खेल गए। हमको हँसी आ गयी। हँसते हुए हमने कहा, “अरे काहे इमोश्नल हो रहे हैं? शाहरुख़ बेचारे का दो दो फिल्म लाइन से फ्लॉप हो गया तो सब साथ छोड़ दिये।“

सोनू भाई भड़क गए, “का घंटा साथ छोड़ दिये? हमसे पूछ के दाढ़ी बढ़ा के घूम रहा है? सर का पट्टा अभी भी नहीं उतारा है। गाल अंदर धँसते चला जा रहा है। आवाज़ और फटा हुआ बांस हो गया है। उम्र के हिसाब से बढ़िया बढ़िया सिनेमा में काम करना चाहिए त नहीं बाल लाल रंग से रंग के सर पर पट्टा बांध के दाढ़ी बढ़ा के सोचता है ससुर बहुत इस्मार्ट लग रहे हैं। भईया पहिले कुछ हो न हो कपड़ा कम से कम अच्छा पहिनता था। अभी देखे हैं? 70 गो चेन लगा हुआ पैंट पहन के आ गया था टीवी पर। आजकल लगता है बीवी भी छोड़ दी है की जाओ जो नौटंकी बुढ़ारी में करना है कर लो। पचासे के उम्र में सठिया गया है। अभी भी हम आपको लिख के दे रहे हैं, नहीं सुधरा न त प्रोड्यूसर रह जाएगा खाली 2 साल के बाद”।

“आप गज़ब बात करते हैं सोनू भाई। सलमान को पचास साल का लौंडा कहते हैं और शाहरुख़ को पचास में बुढ़ा कह रहे हैं? ये क्या बात है? बहुत अन्याय है। ऐसे कैसे चलेगा?” बात आगे बढ़ाने के लिए हमने फिर उंगली की।

सोनू भाई: “अन्याय है? अन्याय लग रहा है आपको? सामने अंडा बेचने वाले अख़्तर चचा को देख रहे हैं? दाढ़ी सफ़ेद हो गया है, कमर झुक गया है। उमर जानते हैं उनका? अभी पैंतालिसे है, पचास भी नहीं पहुंचा। जैसा करम रहेगा वैसा न उमर दिखेगा। का कहें? उनको जवान कहें? चलिये माने अख़्तर चचा की तेरह गो बेटी और चार गो लौंडा है। येही करते करते बुढ़ा गए बेचारे। अभी सुने हैं अगला पर काम चालू है इनका। शाहरुखवा को ऐसा तो कोई काम नहीं था जीवन में। न कोई मजबूरी। सलमान भाई मेंटेन किए हैं कैसा देखे हैं आप। और बात सिर्फ मैंटेन करने का नहीं है भईया, पिछला दस साल में आप सलमान भाई को छिछोरा वाला रोल करते देखे हैं? चिरकुट वाला जैसे ई हॅप्पी न्यू इयर और दिलवाले में किया था? पर्स्नालिटी के हिसाब से रोल करना चाहिए। लोग जाता है शाहरुख़ खान का प्यार, मोहब्बत, गाना और स्टाइल देखने तो भइवा वही सब गायब कर देता है सिनेमा से आऊर सर पर पट्टा बांध के बन जाता है डॉन”।

SULTAN VS RAEES 2

“अच्छा समझ गए हम आपका बात। लेकिन डेटवा बढ़ा दिया न घबरा के सुल्तान से? उसका का? बेइज्जती नहीं कराया?” हमने फिर से उंगली की।

“बेइज्जती? पहली बार जीवन में समझदारी का काम किया है। सुल्तान के आँधी में कहाँ उड़ जाता न पते नहीं लगता इसको। सुल्तान को देख रहे हैं आप कैसा भाई क़हर ढा रहे हैं उसमें? देखिएगा चीर-फाड़ नहीं कर दिया न त हमारा नाम बादल दीजिएगा। सही किया है शाहरुखवा अपना डेट बढ़ा लिया न तो इस बार सब दाढ़ी, पट्टा आऊर रंगीन कपड़ा हवा में होता आऊर बाले नहीं बचता सर में की उसको लाल रंग से रंगे। देखिये सीधा सा बात है सलमान भाई अलग चीज़ हैं, उनको भी पता है। इसी लिए कभी शाहरुख़ बनने का कोशिश नहीं करते, अपना काम करते हैं। शाहरुख़ को भी जब तक समझ नहीं आएगा की सलमान बनने का कोशिश न करे तब तक कल्याण नहीं होनेवाला भाई”।

फिर से अंत में सिरियस बात कह गए सोनू भाई!!!!!!

जब हम निकले वहाँ से तो सोनू भाई पीछे से चिल्लाये, “सुने हैं अब रईस ऋतिकवा और राकेश रौशन के माथे चढ़ गया है? ठीके हुआ, ऋतिकवो बहुत क़ाबिल बनता है”।

Also read पचास साल का लौंडा : सुल्तान

 

Comments